Monday, July 15, 2024
HomeCrime Newsआखिर मध्यप्रदेश के गैंग ने ऑनलाइन लड़कियों को क्यों घेरा?

आखिर मध्यप्रदेश के गैंग ने ऑनलाइन लड़कियों को क्यों घेरा?

मध्यप्रदेश के गैंग ने लड़कियों को ऑनलाइन घेर रखा है! व्हाट्सऐप शायद ही कोई हो जो न इस्तेमाल करता हो। पिछले कुछ समय में व्हाट्सएप युवाओं के बीच सबसे ज्यादा चलन में आ चुका है। न सिर्फ अनऔपचारिक बल्कि औपचारिक चैट में भी व्हाट्सऐप का इस्तेमाल होता है और इसलिए ठगों ने भी इसे ही बना लिया अपनी लूट का जरिया। मध्यप्रदेश में एक ऐसे गैंग का खुलासा हुआ है जो व्हाट्सऐप के जरिए देश की खूबसूरत और अमीर लड़कियों के साथ ठगी कर रहा है। इस गैंग का एकमात्र मिशन होता है खूबसूरत और पैसे वाली लड़कियों के व्हाट्सएप नंबर निकालना और फिर उन्हें अपने जाल में फंसाना।इस गैंग में काफी सारे लोग काम कर रहे हैं। गैंग के कुछ लोगों का काम है सिर्फ ऐसी लड़कियों की तलाश करना जो ऑनलाइन दोस्ती करना पसंद करती हैं। गैंग के कुछ लड़के ऐसी लड़कियों को अपने जाल में फंसाते हैं। ये लोग व्हाट्सऐप नंबर लेकर लड़कियों से दोस्ती करते हैं, लड़कियों का विश्वास जीतते हैं। लड़की को कभी ये लगता ही नहीं कि ये एक सोची समझी चाल है। काफी दिनों तक ये लड़की से चैट करते हैं और जब लड़की पूरी तरह से इन पर विश्वास करने लगती है तो उसके अकाउंट से किसी न किसी बहाने से पैसे निकलवा लेते हैं। ये इस काम में इतने शातिर होते हैं कि लड़की इनके झांसे में फंसती चली जाती है।

कुछ समय पहले भोपाल में एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करने वाली एक लड़की ने एक शिकायत दर्ज करवाई। लड़की ने बताया कि पिछले अक्टूबर में उसकी दोस्ती व्हाट्सऐप के जरिए एक लड़के से हुई। लड़के ने खुद एक्सपोर्ट इंपोर्ट का बिजनेसमैन बताया। दोनों लंबे समय तक एक दूसरे से चैट करते रहे, लेकिन अभी कुछ समय पहले लड़के का इस लड़की के पास फोन आया। लड़के ने बताया कि वो विशाखापट्टनम गया हुआ है और वहां कस्टम विभाग ने उसका जहाज पकड़ लिया है जिसमें इंपोर्ट का सामान था। लड़की से चैट करते हैं और जब लड़की पूरी तरह से इन पर विश्वास करने लगती है तो उसके अकाउंट से किसी न किसी बहाने से पैसे निकलवा लेते हैं। ये इस काम में इतने शातिर होते हैं कि लड़की इनके झांसे में फंसती चली जाती है।उसने लड़की से मदद मांगी और अपने झांसे में लेकर 1 लाख 29 हजार रुपये एसपी ऑनलाइन अकाउंट में ट्रांसफर करवा लिए।

बाद में इसी गैंग के एक दूसरे लड़के ने इस अकाउंट से ये पैसे निकाल लिए और फिर इस लड़के ने अपना फोन डीएक्टिवेट कर दिया। लड़की लगातार लड़के को फोन लगाती रही, लेकिन वो गायब हो चुका था। लड़की समझ चुकी थी कि वो ठगी का शिकार हुई है। इस घटना के बाद उसने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई। जांच शुरू हुई तो अमन नाम के एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। अमन वो लड़का है जिसने ये पैसे बैंक से निकाले थे। अमन ने ही पुलिस कस्टडी में बताया कि इस तरह से एक बड़ा रैकेट काम कर रहा है जो देशभर में लड़कियों से व्हाट्सएप के जरिए ठगी करता है।

उसने बताया कि उसका काम सिर्फ बैंक से पैसे निकालकर पैसों को आगे ट्रांसफर करना है और इस काम के लिए उसे कमिशन मिलती है। बता दें कि दोनों लंबे समय तक एक दूसरे से चैट करते रहे, लेकिन अभी कुछ समय पहले लड़के का इस लड़की के पास फोन आया। लड़के ने बताया कि वो विशाखापट्टनम गया हुआ है और वहां कस्टम विभाग ने उसका जहाज पकड़ लिया है जिसमें इंपोर्ट का सामान था। उसने लड़की से मदद मांगी और अपने झांसे में लेकर 1 लाख 29 हजार रुपये एसपी ऑनलाइन अकाउंट में ट्रांसफर करवा लिए। अमन अब तक कमीशन के नाम पर ही एक करोड़ रुपये से ज्यादा कमा चुका है। यहि नहीं लड़की समझ चुकी थी कि वो ठगी का शिकार हुई है। इस घटना के बाद उसने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई। जांच शुरू हुई तो अमन नाम के एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। अमन वो लड़का है जिसने ये पैसे बैंक से निकाले थे। अमन ने ही पुलिस कस्टडी में बताया कि इस तरह से एक बड़ा रैकेट काम कर रहा है जो देशभर में लड़कियों से व्हाट्सएप के जरिए ठगी करता है। अब तक न जाने कितनी ही लड़कियों के साथ ये गैंग ठगी कर चुका है। पुलिस को इस गैंग से जुड़े बाकी लोगों की तलाश है। ये लोग एमपी ऑनलाइन के खातों के जरिए लेन देन कर रहे थे। पुलिस ने 2000 से ज्यादा संचालकों को आगाह किया है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments