हाल ही में रेपो रेट बढ़ चुकी है, इससे कई चीजों पर बहुत फर्क पड़ा है! मुद्रास्फीति में कमी ना आने के चलते भारतीय रिजर्व बैंक ने बुधवार को फिर से नीतिगत दरों में बढ़ोतरी की। पिछले ही महीने रिजर्व बैंक ने रेपो रेट में 0.40 फीसदी की बढ़ोतरी की थी और अब इस महीने फिर से 0.50 फीसदी तक की बढ़ोतरी की गई है। अब रेपो रेट की नई दर 4.90 फीसदी हो गई है। इस बढ़ोतरी का सबसे बड़ा असर आपके होम लोन ईएमआई  और ऑटो लोन ईएमआई पर पड़ेगा। ऐसे में आपको ये समझना जरूरी है कि ईएमआई का बोझ कितना बढ़ेगा।रेपो रेट बढ़ने की वजह से आपके होम लोन की ईएमआई महंगी हो जाएगी। मान लेते हैं कि जिस बैंक से आपने होम लिया है, उसकी होम लोन की दर पहले 7.05 फीसदी थी और आपको ये लोन 20 साल की अवधि के लिए लिया है। ऐसे में 30 लाख रुपये के लोन पर पहले आपको 23,349 रुपये की ईएमआई देनी होती थी, लेकिन अब आपको 24,260 रुपये चुकाने पड़ेंगे। इसी तरह अगर आपका लोन 50 लाख रुपये या 1 करोड़ का है तो चार्ट में देखिए आपको पहले की तुलना में अब कितने पैसे चुकाने होंगे।

होम लोन की तरह ही ऑटो लोन लेने वालों के लिए भी रेपो रेट बढ़ने की वजह से ईएमआई बढ़ जाएगी। मान लेते हैं कि अभी आपने जिस बैंक से ऑटो लोन लिया है, वहां से आपको 7.04 फीसदी की दर से लोन मिला है। साथ ही यह भी मान लेते हैं कि आपने लोन 7 साल के लिए लिया है। ऐसे में अगर आपने 7 लाख रुपये का ऑटो लोन लिया है तो अभी तक आपको 10,702 रुपये की ईएमआई चुकानी पड़ रही थी, लेकिन अब 10,876 रुपये चुकाने होंगे। इसी तरह अगर आपने 10 लाख या 20 लाख का ऑटो लोन लिया है तो आपको कितनी ईएमआई चुकानी होगी, इसकी जानकारी चार्ट से देख सकते हैं।

रिजर्व बैंक की तरफ से इस बार रेपो रेट में 50 बेसिस प्वाइंट यानी 0.50 फीसदी की बढ़ोतरी की गई है। रेपो रेट बढ़ने का सीधा सा मतलब है कि रिजर्व बैंक की तरफ से बैंकों को लोन महंगी दर पर मिलेगा। ऐसे में बैंक इस बढ़ोतरी को ग्राहकों तक ट्रांसफर करते हैं, जिसे उनके लिए भी कर्ज लेने की दरें महंगी हो जाती हैं।होम लोन की तरह ही ऑटो लोन लेने वालों के लिए भी रेपो रेट बढ़ने की वजह से ईएमआई बढ़ जाएगी। मान लेते हैं कि अभी आपने जिस बैंक से ऑटो लोन लिया है, वहां से आपको 7.04 फीसदी की दर से लोन मिला है। साथ ही यह भी मान लेते हैं कि आपने लोन 7 साल के लिए लिया है। ऐसे में अगर आपने 7 लाख रुपये का ऑटो लोन लिया है तो अभी तक आपको 10,702 रुपये की ईएमआई चुकानी पड़ रही थी, लेकिन अब 10,876 रुपये चुकाने होंगे।होम लोन की तरह ही ऑटो लोन लेने वालों के लिए भी रेपो रेट बढ़ने की वजह से ईएमआई बढ़ जाएगी।

मान लेते हैं कि अभी आपने जिस बैंक से ऑटो लोन लिया है, वहां से आपको 7.04 फीसदी की दर से लोन मिला है। साथ ही यह भी मान लेते हैं कि आपने लोन 7 साल के लिए लिया है। ऐसे में अगर आपने 7 लाख रुपये का ऑटो लोन लिया है तो अभी तक आपको 10,702 रुपये की ईएमआई चुकानी पड़ रही थी, लेकिन अब 10,876 रुपये चुकाने होंगे।ऐसे में आपको ये समझना जरूरी है कि ईएमआई का बोझ कितना बढ़ेगा।रेपो रेट बढ़ने की वजह से आपके होम लोन की ईएमआई महंगी हो जाएगी। मान लेते हैं कि जिस बैंक से आपने होम लिया है, उसकी होम लोन की दर पहले 7.05 फीसदी थी और आपको ये लोन 20 साल की अवधि के लिए लिया है। ऐसे में 30 लाख रुपये के लोन पर पहले आपको 23,349 रुपये की ईएमआई देनी होती थी, लेकिन अब आपको 24,260 रुपये चुकाने पड़ेंगे। इसी तरह अगर आपका लोन 50 लाख रुपये या 1 करोड़ का है तो चार्ट में देखिए आपको पहले की तुलना में अब कितने पैसे चुकाने होंगे। इसी तरह अगर आपने 10 लाख या 20 लाख का ऑटो लोन लिया है तो आपको कितनी ईएमआई चुकानी होगी, इसकी जानकारी चार्ट से देख सकते हैं। इसी तरह अगर आपने 10 लाख या 20 लाख का ऑटो लोन लिया है तो आपको कितनी ईएमआई चुकानी होगी, इससे नए लोन तो महंगे होते ही हैं, साथ ही जो होम लोन या ऑटो लोन पहले से चल रहे होते हैं, उनकी ईएमआई भी बढ़ जाती है। हालांकि, पर्सनल लोन की ईएमआई पर इसका असर नहीं होगा, लेकिन नए पर्सनल लोन महंगे हो जाएंगे।