Thursday, April 18, 2024
HomeIndian Newsजानिए उत्तर प्रदेश के माफिया परिवार की कहानी!

जानिए उत्तर प्रदेश के माफिया परिवार की कहानी!

आज हम आपको उत्तर प्रदेश के माफिया परिवार की कहानी सुनाने जा रहे हैं! पहले बेटा, फिर भाई और अब पत्नी भी, अतीक अहमद के पूरे खानदान के काले कारनामे एक-एक कर सामने आते जा रहे हैं। उमेश पाल हत्याकांड में पहले बेटा फरार था अब पत्नी शाइस्ता परवीन भी पुलिस के निशाने पर आ गई है। पहले बेटे पर था ढाई लाख का ईनाम, अब पत्नी भी बन गई है 25 हजार की ईनामी बदमाश। सालों तक उत्तर प्रदेश में राजनैतिक संरक्षण पाकर माफिया राज चलाने वाले डॉन अतीक अहमद का परिवार अब गुनाहों को लेकर पूरी तरह से घिरता हुआ नजर आ रहा है। हत्या, लूटपाट, किडनैपिंग, वसूली, जमीनी विवाद जैसे दर्जनों मामलों में गुजरात की साबरमती जेल में सजा काट रहे अतीक अहमद और उसके परिवार के गुनाह की लिस्ट हर दिन बढ़ती ही जा रही है। उमेश पाल हत्याकांड में फायरिंग करते हुए अतीक के तीसरे नंबर के बेटे असद की तस्वीरें सामने आई थी। अब अतीक की पत्नी शाइस्ता के भी कनेक्शन इस हत्याकांड से जुड़ गए हैं। उमेश पाल की हत्या के ठीक पांच दिन पहले शाइस्ता ने अतीक गैंग के कुछ लोगों से मुलाकात की जिनमें से एक शार्प शूटर साबिर था जो हत्याकांड के मुख्य आरोपियों में से एक है। शाइस्ता का एक वीडियो सामने आया है जिसमें वो साबिर और गैंग के दूसरे लोगों से बातें कर रही है। तो क्या शाइस्ता ने ही की थी उमेश पाल हत्या की पूरी साजिश। क्या इस मर्डर केस की मास्टर माइंड अतीक अहमद की पत्नी ही है। इस वीडियो के सामने आने के बाद पुलिस ने शाइस्ता के ऊपर 25 हजार का ईनाम घोषित कर दिया है।

अतीक अहमद ने साल 1996में शाइस्ता परवीन से निकाह किया था। दोनों के पांच बेटे है। ये जानकर शायद आपको ज्यादा हैरानी न हो कि पति -पत्नी के अलावा इनके पांचों बेटे भी गुनाह में लिप्त हैं। बड़ा बेटा उमर और दूसरे नंबर का बेटा मोहम्मद अली जेल की सलाखों के पीछे हैं। उमर के ऊपर पिछले साल 2 लाख का ईनाम घोषित था। वो रंगदारी के एक मामले में फरार था। पिछले साल अगस्त में उसने सीबीआई के सामने सरेंडर किया।

दूसरे नंबर के बेटे मोहम्मद अली पर भी कई मामले दर्ज हैं। हत्या की कोशिश के एक मामले में वो जेल में बंद है। हालांकि इस इस मामले में उसे कोर्ट से जमानत मिल गई है, लेकिन एक और मामले की वजह से वो जेल से बाहर नहीं आ पाया। अतीक अहमद का तीसरा बेटा असद उमेश पाल हत्याकांड का अहम आरोपी है। वो उसी कार में सवार था जिससे उमेश पाल पर फायरिंग हुई थी और घटना के बाद से वो फरार है और उसपर ढाई लाख का ईनाम भी घोषित है। अतीक अहमद के 2 छोटे बेटों का इस हत्याकांड के बाद से कोई पता नहीं है। यानी पूरा का पूरा परिवार पर कुछ न कुछ अपराध दर्ज है हीं।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य से माफियाओं का सफाया करने की बात कही थी। यूपी सरकार लगातार भू माफियाओं और अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करती नजर आ रही है और यही वजह है कि सालों से बचकर बैठे अतीक अहमद के परिवार गुनाह सामने आने लगे हैं।अतीक अहमद के खुद के परिवार के अलावा उसका भाई अशरफ भी उमेश पाल हत्यकांड में आरोपी है।अशरफ भी पहले से ही जेल में बंद है और उसपर जेल से ही उमेश पाल की हत्या की साजिश रचने के आरोप लगे हैं।

अशरफ बरेली जेल में है और उसने जेल को ही जुर्म का अड्डा बनाकर रखा हुआ था। जेलकर्मियों को पैसे खिलाकर वो लोगों से मुलाकात करता था और आगे की प्लानिंग की जाती थी। अतीक अहमद का तीसरा बेटा असद उमेश पाल हत्याकांड का अहम आरोपी है। वो उसी कार में सवार था जिससे उमेश पाल पर फायरिंग हुई थी और घटना के बाद से वो फरार है और उसपर ढाई लाख का ईनाम भी घोषित है। अतीक अहमद के 2 छोटे बेटों का इस हत्याकांड के बाद से कोई पता नहीं है। यानी पूरा का पूरा परिवार पर कुछ न कुछ अपराध दर्ज है हीं।इस मामले में बरेली जेल के पुलिस अधिकारियों और कुछ पुलिसकर्मियों समेत अतीक गैंग के दो लोगों के खिलाफपिछले हफ्ते ही केस दर्ज हुआ है। ये गैरकानूनी तरीके से अशरफ से मुलाकात करते थे। यानी अब अतीक अहमद का पूरा परिवार मोस्ट वांटेड की लिस्ट में शामिल हो चुका है। कभी अपने बल और साजिश के दम पर उत्तर प्रदेश में अपना दबदबा कामय करने वाले अतीक अहमद के गुनहाों की लिस्ट अब किसी से छुपी हुई नहीं है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments