Friday, May 24, 2024
HomeIndian Newsबजरंग दल के एक कार्यकर्ता की हत्या के बाद कर्नाटक शहर में...

बजरंग दल के एक कार्यकर्ता की हत्या के बाद कर्नाटक शहर में भारी तनाव है

नई दिल्ली : हिन्दूवादी संगठन बजरंग दल के एक कार्यकर्ता की हत्या   के बाद कर्नाटक के शिवमोगा शहर में भारी तनाव है हिजाब विवाद के बीच कर्नाटक के शिवमोगा में बजरंग दल के कार्यकर्ता की चाकू मारकर हत्या कर दी गई। पुलिस इस मामले को हिजाब विवाद से जोड़कर देख रही है। हालांकि, पुलिस सीधे तौर पर कुछ भी कहने से बच रही है। घटना के बाद से पूरे इलाके में तनाव बढ़ गया है, जिसके चलते पुलिस और भी ज्यादा सक्रिय हो गई है। कर्नाटक में हिजाब विवाद के बाद हाई कोर्ट में आज फिर से सुनवाई होनी है। इससे पहले हुई सुनवाई में कर्नाटक हाईकोर्ट ने धार्मिक कपड़ों पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया था। कोर्ट का कहना था कि फैसला आने तक हिजाब या भगवा शॉल पर रोक रहेगी। इसके अलावा कर्नाटक अल्पसंख्यक आयोग ने भी इसी तरह का आदेश जारी किया है

घटना रात के 9 बजे घटी. मिली जानकारी के अनुसार विक्टिम का नाम हर्षा है. वहीं पुलिस की माने तो शुरुआती जांच में इसे हिजाब विवाद से भी जोड़कर देखा जा रहा है. जांच के दौरान पता चला की हर्षा ने हाल ही में अपने फेसबुक प्रोफाइल पर हिजाब के खिलाफ और भगवा शॉल के समर्थन में पोस्ट लिखी थी वहीं शिवमोगा जिले के डिप्टी कमिश्नर डॉ सेल्वामणि आर ने कहा, स्थिति नियंत्रण में है. स्थानीय पुलिस, आरएएफ को कानून एवं व्यवस्था को बनाए रखने के लिए तैनात किया गया है. इलाके में धारा 144 लगा दी गई है, जो 23 फरवरी तक लागू रहेगी. फिलहाल पुलिस इस मामले की जांच कर रही है. मारे गए युवक की पहचान 26 साल के हर्षा के तौर पर हुई। इस मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। राज्य के गृह मंत्री अरागा ज्ञानेंद्र ने बताया है कि आरोपी स्थानीय ही हैं। हर्षा के शव को पोस्टमॉर्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया गया था इस हमले के बाद, गुस्साए लोगों ने इलाके के कई वाहनों में आग लगा दी. आगजनी को रोकने के लिए पुलिस ने इलाके में भारी बल तैनात किया है. इसके अलावा प्रशासन ने सार्वजनिक समारोहों पर प्रतिबंध लगा दिया है. प्रशासन ने अगले आदेश तक स्कूल और कॉलेजों को बंद रखने का आदेश दिया है. पाबंदी के बावजूद, बजरंग दल के समर्थकों की भारी भीड़ युवक के शव को घर ले जाने के दौरान साथ दिखी.
इस घटना के बाद से इलाके में लोग प्रदर्शन कर रहे हैं, इसके चलते पुलिस को कई जगहों पर भीड़ को कंट्रोल करने के लिए आंसू गैस का इस्तेमाल करना पड़ा। सुरक्षा के चलते शहर में धारा 144 लागू की गई है। बीजेपी नेता बी एल संतोष ने इस मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि हर्षा की हत्या एंटी हिजाब प्रोटेस्ट की वजह से हुई है। कर्नाटक के पूर्व सीएम एचडी कुमारस्वामी ने कहा कि पिछले हफ्ते जब हिजाब विवाद शुरू हुआ था, तब मैंने पहले ही ऐसा कुछ होने का अंदेशा जताया था। अब एक लड़के की मौत हो गई है। कांग्रेस और बीजेपी अब खुश हो सकते हैं क्योंकि उन्होंने राज्य की शांति को भंग कर दिया है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments