Monday, June 24, 2024
HomeBollywoodआलोचना जीवन का एक दैनिक हिस्सा है। बॉलीवुड एक्ट्रेस तापसी पन्नू ने...

आलोचना जीवन का एक दैनिक हिस्सा है। बॉलीवुड एक्ट्रेस तापसी पन्नू ने कई इंटरव्यू में माना है।

आलोचना उनके जीवन का एक दैनिक हिस्सा है। इस बात को खुद बॉलीवुड एक्ट्रेस तापसी पन्नू ने कई इंटरव्यू में माना है। बॉलीवुड की ‘हसीन दिलरुबा‘ को इस बार एक फैशन शो में चलने पर जमकर आलोचनाओं का सामना करना पड़ा। अभिनेत्री के कपड़ों और गहनों की शैली को देखकर नेटिज़न्स लगभग पागल हो गए। बॉलीवुड अभिनेत्री तापसी पन्नू ने मुंबई में एक प्रतिष्ठित फैशन शो में डिजाइनर मनीषा जयसिंह के लिए रैंप वॉक किया। तापसी ने शो के लिए एक कॉस्ट्यूम डिजाइनर द्वारा बनाया गया लाल रंग का गाउन पहना था। घुँघराले बालों का सिर, गले में भारी सोने के गहने। एक्ट्रेस ने उस ड्रेस में चुटीली मुस्कान के साथ तस्वीर भी खिंचवाई। सोशल मीडिया पर फोटो पोस्ट होने के बाद आलोचना शुरू हो गई। तापसी के हार से शुरू हुआ था विवाद एक्ट्रेस ने जो रेड गाउन पहना है वह कंधों से लेकर नाभि तक खुला हुआ है। चोकर के गहने छाती के बीच में लंबी खांचे में बैठ गए। गहनों में एक हिंदू देवी की तस्वीर है। हालांकि स्पष्ट रूप से नहीं देखा जा सकता है, दूर से यह देवी लक्ष्मी की एक छवि प्रतीत होती है। नेटिज़न्स इससे तंग आ चुके हैं। उनका आरोप था कि अभिनेत्री ने इस तरह के ‘अभव्य’ कपड़े और गहने पहनकर अभद्रता की हद पार कर दी है। कई लोगों की शिकायत है कि तापसी ने ‘अपवित्र’ तरीके से गहनों के जरिए हिंदू देवी को कैद किया है।  यहां तक ​​कि उस ज्वैलरी को पहनने के लिए एक्ट्रेस को ‘बेशर्म’ का टाइटल भी मिल गया था। कई लोगों ने तापसी की तस्वीर पर कमेंट करते हुए लिखा, ‘तुम बॉडी दिखाना चाहती हो, दिखाओ.’ तुम हमारी देवी के चेहरे वाले गहने क्यों पहन रही हो?” उनका दावा है कि तापसी इस तरह के कपड़े और गहने पहनकर हिंदुओं की भावनाओं को ठेस पहुंचा रही हैं।तापसी पन्नू ने सोशल मीडिया पेजों पर अपनी फोटो के तहत आलोचनाओं की आंधी के बावजूद अभी तक इस बारे में अपना मुंह नहीं खोला है। एक्ट्रेस ने साफ कर दिया है कि वह आलोचनाओं के आगे झुकने वालों में से नहीं हैं। आइए देखें कि तापसी अपने कपड़ों और गहनों को लेकर हो रही आलोचना के जवाब में क्या कहती हैं। दोनों अभिनेत्रियों को बात किए हुए कुछ साल हो गए हैं। तापसी पन्नू और कंगना रनौत की सोशल मीडिया पर नोकझोंक हुई। यह तकरार तब और बढ़ गई जब कंगना की बहन रंगोली ने मजाक में तापसी कंगना की ‘सस्ती नकल’ कहा। तापसी ने एक इंटरव्यू में कहा था कि वह घायल हो गई हैं।लेकिन समय बीत चुका है। अब क्या कंगना से बात करेगी तापसी? उन्होंने कहा, “मैं वास्तव में नहीं जानता। लेकिन अगर हालात ऐसे हैं कि कंगना मेरे सामने आती हैं तो मैं जाकर उन्हें ‘हैलो’ कहूंगा। मेरी तरफ से कोई दिक्कत नहीं है। समस्या उसकी तरफ से है। वह चाहेगा तो बात करेगा। ”

‘शाबाश मीतू’ की हीरोइन इस बात से कभी इंकार नहीं करतीं कि कंगना एक गुणी इंसान हैं।तापसी ने कहा, ‘कंगना बहुत अच्छी एक्ट्रेस हैं। जब मुझे उनकी घटिया नकल कहा गया तो मैंने इसे तारीफ के तौर पर लिया।” 2019 में रंगोली ने ट्वीट किया था, ”कंगना की नकल कर कुछ लोग अपनी तकदीर बना रहे हैं. लेकिन इनमें से कोई भी कंगना को नहीं पहचानता। नाम भी मत लो। आखिर में मैंने तापसीजी को यह कहते हुए देखा कि कंगना को डबल फिल्टर की जरूरत है। तापसीजी, आपको कंगना की घटिया नकल बनना बंद करना चाहिए।’ तापसी ने हालांकि कंगना की बातों पर चुप रहने का फैसला किया। हालाँकि, अनुराग कश्यप आलोचनात्मक थे। इंटरव्यू में तापसी ने इंडस्ट्री में तरह-तरह के भेदभावों पर भी बात की। नायक-नायिकाओं के पारिश्रमिक में भेदभाव होता है। तापसी ने कहा, ‘हीरो को हीरोइन के सामने आकर तैयार बैठने की जरूरत नहीं है। लेकिन हीरो के सेट पर आने से पहले हीरोइन को तैयार रहना होता है। बतौर मॉडल करियर की शुरुआत की। उन्होंने 2010 में अभिनय की दुनिया में कदम रखा। उससे दो साल पहले तापसी पन्नू ने 2008 में ब्यूटी पेजेंट ऑफ इंडिया में हिस्सा लिया था। वह तब एक छात्रा थी। वह अनुभव कैसा था? अभिनेत्री ने कहा कि यह सुखद नहीं था। तापसी के मुताबिक चयन प्रक्रिया में काफी पक्षपात हुआ था. वहां रहने की उनकी पात्रता पर सवाल उठने लगे। उन्हें अपमानित होना पड़ा।तापसी ने कहा कि वह दिल्ली से चुने गए तीन लोगों में से एक थीं। उन्हें पेशेवर मॉडलों के साथ प्रतिस्पर्धा करनी पड़ी। उनकी तुलना में वह शौकिया, अनुभवहीन था। तब तक उन्होंने सिर्फ फोटोशूट ही कराया था। उनका चेहरा कभी किसी टीवी विज्ञापन में नहीं आया और न ही उन्हें रैंप वॉक करने का अनुभव है। तापसी ने कहा, ‘मैं ग्रूमिंग फेज के दौरान समझ गई थी कि मैं ऐसा नहीं कर सकती। हमें सिखाया गया कि कैसे चलना है, कैसे मुस्कुराना है। हेमंत त्रिवेदी तब शिक्षक थे। उन्होंने कहा, “अगर मेरी मर्जी होती, तो आप कभी भी शीर्ष अट्ठाईस में नहीं पहुंच पाते।”

 

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments