Thursday, April 18, 2024
HomeIndian Newsइनकम टैक्स की टीम ने Omaxe Builder के ठिकानों पर मारा छापा

इनकम टैक्स की टीम ने Omaxe Builder के ठिकानों पर मारा छापा

 

नई दिल्ली :ओमेक्स बिल्डर के दिल्ली और हरियाण स्थित कॉरपोरेट ऑफिसों पर इनकम टैक्स की टीम ने सोमवार को छापा मारा है.सूत्रों के मुताबिक, यह छापा यहां अनएकाउंटेड ट्रांजैक्शन और कैश में लेनदेन के इनपु ट मिलने के बाद डाला गया है. इनकम टैक्स की यह रेड चंडीगढ़ यूनिट ने की है. वहीं इसका लाजिस्टिक नोएडा यूनिट की तरफ से दिया गया है. सूत्रों के मुताबिक ये कार्रवाई ओमेक्स बिल्डर  के दिल्ली और हरियाण स्थित कॉरपोरेट ऑफिसों पर की गई है.ये रेड में दिल्ली-एनसीआर के 27 ठिकाने हैं. इसके अलावा लखनऊ और चंडीगढ़ में भी सर्च की जा रही है. बताया गया कि नोएडा में भी एक या दो स्थान हो सकते हैं.सूत्र बताते है कि इस कार्रवाई में आयकर विभाग के करीब 250 अधिकारी इन टीमों में शामिल हैं. दिल्ली की एक टीम नोएडा में पहले भी ऐसी कार्रवाई कर चुकी है.हालांकि ये प्रारंभिक जानकारी है. यहां से आयकर विभाग को बड़ी मात्रा में करोड़ों रुपए टैक्स चोरी का खुलासा और कई करोड़ रुपए कैश मिलने की उम्मीद है.

आपको बता दें कि वह ओमैक्स बिल्डर के प्रोजेक्ट देशभर के करीब 20 शहरों में फैले हुए हैं। इनमें नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गुरुग्राम, देहरादून, लखनऊ और चंडीगढ़ स्थित ठिकानों पर जांच चल रही है। ओमैक्स रीयल एस्टेट समूह का बड़ा कारोबारी है। देश के कई प्रमुख शहरों की इसकी टाउनशिप हैं। आयकर विभाग की टीमें सोमवार सुबह से ही रीयल एस्टेट डेवलपर ओमैक्स ग्रुप के दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा और पंजाब समेत देशभर में करीब 45 ठिकानों पर छापेमारी कर रही हैं। ग्रुप पर आयकर चोरी का आरोप है। ओमैक्स बिल्डर पर टैक्स चोरी के साथ ही बड़ी मात्रा में नकद राशि लेकर फ्लैट बेचने का आरोप है। सूत्रों के अनुसार ग्रेटर नोएडा में किसी और शहर की टीम जांच कर रही है। ओमैक्स समूह का हेड ऑफिस दिल्ली के कालकाजी में है। नोएडा से आयकर की दो टीम दिल्ली गई हैं। दिल्ली में बिल्डर का घर और दफ्तर है। इस छापे के लिए नोएडा यूनिट की ओर से सिर्फ लॉजिस्टिक प्रोवाइड कराया गया है, बाकि इनपुट और सर्च चंडीगढ़ यूनिट की है. बताया गया कि सुबह करीब साढ़े सात बजे एक साथ इन स्थानों पर सर्च कंडक्ट की गई है. फिलहाल पूछताछ की जा रही है.

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments