Friday, July 19, 2024
HomeGlobal Newsचीन में 132 पैसेंजर्स ले जा रहा प्लेन क्रैश

चीन में 132 पैसेंजर्स ले जा रहा प्लेन क्रैश

नई दिल्ली  चीन में एक बड़ा विमान हादसा हुआ है. चीन का Boeing 737 एयरक्राफ्ट क्रैश हो गया है. हादसे के वक्त Boeing 737 में कुल 133 यात्री सवार थे. चीनी मीडिया के मुताबिक हादसा दक्षिण चीन सागर में हुआ. हादसे में कितने लोगों की जान गई या कितने घायल हुए, फिलहाल इसकी जानकारी सामने नहीं आई है.हादसे के बाद पहाड़ी इलाके में आग लग गई। प्रसारक के अनुसार, हादसे में हताहत हुए लोगों के संबंध में तत्काल कोई जानकारी नहीं दी गई है। उसने बताया कि बचाव दलों को मौके पर भेजा गया है दो इंजन वाला ‘बोइंग 737’ छोटी एवं मध्यम दूरी की उड़ानों के लिए दुनिया के सबसे लोकप्रिय विमानों में से एक है। हादसा किस वजह से हुआ, यह अभी स्पष्ट नहीं है। ‘चाइना ईस्टर्न’ की ओर से कई तरह के सामान्य विमान संचालित किए जाते हैं।दो घातक हादसों के बाद 737 मैक्स विमानों का संचालन रोक दिया गया था। चीनी विमान नियामक के मंजूरी देने के बाद पिछले साल से इन विमानों का पुन: परिचालन शुरू हुआ। ‘चाइना ईस्टर्न’, चीन की तीन प्रमुख विमान वाहक कम्पनियों में से एक है। इस मॉडल के विमान पहले भी कई बार हादसे का शिकार हो चुके हैं

फ्लाइट MU 5735 ने दोपहर सवा एक बजे कुनमिंग चांगशुई एयरपोर्ट से उड़ा भरी थी। ये फ्लाइट 3 बजे गुआंगझोऊ तक पहुंचनी थी। रिपोर्ट्स के मुताबिक, प्लेन दो मिनट से भी कम समय में 30,000 फीट नीचे गिर गया।उड़ान भरने के 71 मिनट बाद ये प्लेन हादसे का शिकार हो गया। लैंड करने से 43 मिनट पहले विमान का संपर्क ATC से टूट गया था। यात्रियों को ले जा रहा विमान बोइंग 737 है। बोइंग साढ़े छह साल से एयरलाइंस में ऑपरेट हो रहा था। हादसे के बारे में चाइना ईस्टर्न एयरलाइंस का बयान नहीं आया है।हादसे के वक्त प्लेन में 132 लोग सवार थे। हालांकि, हादसे में कितने लोग हताहत हुए हैं इसका पता अभी नहीं चल सका है। ये प्लेन चाइना ईस्टर्न एयरलाइंस का था।बोइंग 737 ने कुनमिंग से गुआनझोउ के लिए उड़ान भरी थी, लेकिन गुआंग्शी की पहाड़ियों में प्लेन हादसे का शिकार हो गया। हादसे की वजह से पहाड़ी में आग लग गई है। हादसे के कारणों का पता लगाया जा रहा है। स्थानीय मीडिया ने हादसे की जानकारी दी है। विमान में 123 यात्री जबकि बाकी लोग क्रू मेंबर्स थे।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments