Makar Sankranti

मकर संक्रांति’ हिंदूओं के प्रमुख त्योहारों में से एक है। यूपी, बिहार, गुजरात , मध्य प्रदेश, राजस्थान, कर्नाटक, पंजाब और अन्य राज्यों के लोग संक्रांति के त्योहार को बहुत खुशी और उत्साह के साथ मनाते हैं। यह सर्दियों के अंत और फसल के मौसम की शुरुआत के रूप में मनाया जाता है। मकर संक्रांति को अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग नामों से जाना जाता है। इस त्योहार के जरिए लोग सूर्य भगवान का शुक्रिया अदा करते हैं, इसलिए इस दिन खास तौर पर सूर्यदेव की पूजा की जाती है और उन्हें अर्ध्य दिया जाता है।
मकर संक्रांति का दिन हिंदू धर्म में काफी महत्व रखता है. ऐसा माना जाता है कि इस दिन दान करने से जीवन की सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं. साथ ही सुख, शांति और आर्थिक समृद्धि की प्राप्ति के लिए भी ये लाभदायक है. सूर्य जब मकर राशि में प्रवेश करता है, तो इस राशि परिवर्तन को मकर संक्रांति कहा जाता है. इस दिन सूर्यदेव की पूजा से मनचाहा वरदान प्राप्त होता है. इस दिन सूर्य धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करते हैं. इस दिन जप, तप, दान, स्नान का विशेष महत्व होता है मकर संक्रांति को लेकर काफी दुविधा रहती है कि यह किस दिन मनाई जाएगी. कुछ लोगों का मानना है कि मकर संक्रांति 14 जनवरी को मनाई जाती है जबकि कुछ लोग इसे 15 जनवरी को मनाते हैं. ऐसे में आपको बता दें कि इस साल मकर संक्रांति 14 जनवरी को मनाई जाएगी. . इस दिन सूर्य देव की उपासना की जाती है