Thursday, April 18, 2024
HomeIndian Newsकोई माई का लाल पैदा नहीं हुआ -बाहुबली विधायक राजा भैया

कोई माई का लाल पैदा नहीं हुआ -बाहुबली विधायक राजा भैया

नई दिल्ली : यूपी विधानसभा चुनाव के दौरान प्रतापगढ़ की कुंडा सीट से बाहुबली विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया का एक बयान सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है. दरअसल सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने गुरुवार को एक जनसभा में कुंडा में कुंडी लगाने का बयान दिया है. वहीं, राजा भैया ने पलटवार करते हुए कहा कि धरती पर अभी कोई माई का लाल पैदा नहीं हुआ जो कुंडा में कुंडी लगा दे. इसके साथ उन्‍होंने कहा कि सात पीढ़ी लगाने के बाद भी कुंडा को कुंडी नहीं बनाया जा सकता है पांचवें चरण में 27 फरवरी को 12 जिलों की 61 विधानसभा सीटों पर मतदान होना है. इस चरण में कुल 693 प्रत्याशी अपनी किस्मत आजमाएंगे. अंतिम दिन कई दलों के दिग्गज नेताओं ने तूफानी चुनाव प्रचार किया है. सभी पार्टियों के बड़े चेहरों ने प्रचार करते हुए मतदाताओं से समर्थन मांगा. राजा भैया की कुंडा विधानसभा का चुनाव भी इसी चरण में होना है

प्रचार के अंतिम दिन राजा भैया ने कुंडा में एक विशाल जनसमूह को संबोधित करते हुए कहा कि उन्होंने कभी शब्दों की मर्यादा को नहीं लांघा है, हमेशा मर्यादित रहकर ही उन्होंने जवाब दिया है. लेकिन जो लोग कुंडा में कुंडी लगाने की बात कर रहे हैं, उनका यह सपना कभी पूरा नहीं होगा इतना ही नहीं कुंडा के विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया ने कहा कि धरती पर ऐसा कोई माई का लाल पैदा ही नहीं हुआ है, जो कुंडा में कुंडी लगा सके. राजा भैया ने अपने तीखे तेवर में यहां तक कह डाला कि ना सरकार बन रही है, और ना ही वह बनने देंगे. सिर्फ वह इंतजार कर रहे हैं तो 10 मार्च की तारीख, जिसके बाद 11 मार्च की भी तारीख आती है. सपा प्रमुख अखिलेश यादव  ने एक जनसभा में कुंडा में कुंडी लगाने का बयान दिया है. वहीं, अखिलेश के इस बयान पर अब राजा भैया ने पलटवार किया है. अखिलेश के बयान पर राजा भैया ने कहा कि कि धरती पर अभी कोई माई का लाल पैदा नहीं हुआ जो कुंडा में कुंडी लगा दे. इसके साथ उन्‍होंने कहा कि सात पीढ़ी लगाने के बाद भी कुंडा को कुंडी नहीं बनाया जा सकता है. चुनाव शांतिपूर्ण सम्पन्न हो इसके लिए वह बहुत धैर्य रखे हुए हैं  रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया के खिलाफ कभी उनके बेहद करीबी रहे गुलशन यादव ने बगावत करके समाजवादी पार्टी का दामन थाम कर उनके खिलाफ चुनाव मैदान में उतर गए हैं. गुलशन यादव की छवि अपराधिक प्रवृत्ति की है. उन पर दर्जन भर से अधिक मुकदमे कुंडा समेत प्रतापगढ़ के कई थानों में दर्ज हैं. कभी राजा भैया के हम साए की तरह रहने वाले गुलशन यादव 2022 के चुनाव में उन्हें कुंडा में चुनौती देते हुए नजर आए हैं.

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments