Thursday, April 18, 2024
HomeHealth & FitnessWorld Cancer Day: इन आदतों पर ध्यान दे, नही तो बढ़ सकता...

World Cancer Day: इन आदतों पर ध्यान दे, नही तो बढ़ सकता है कैंसर का खतरा

नईदिल्ली। कैंसर का खतरा पिछले दो-तीन दशकों में काफी तेजी से बढ़ता हुआ देखा गया है। नेशनल कैंसर इंस्टीट्यूट की एक रिपोर्ट के मुताबिक साल 2030 तक प्रतिवर्ष कैंसर के नए मामलों की संख्या बढ़कर 23.6 मिलियन (23.6 लाख) से अधिक हो सकती है। यही कारण है कि स्वास्थ्य विशेषज्ञ सभी लोगों को कैंसर से बचाव के उपाय करते रहने की सलाह देते हैं। अध्ययनों से पता चलता है कि जीवनशैली और आहार की गड़बड़ आदतों के चलते लोगों में कैंसर का खतरा पहले से कहीं अधिक हो गया है। हम रोजाना जाने-अनजाने कई ऐसी चीजें करते रहते हैं जो हमारे लिए इस घातक रोग के जोखिम को बढ़ा सकती है।

कैंसर के बढ़ते खतरे के बारे में लोगों को अलर्ट करने और इससे बचाव को लेकर जागरूकता फैलाने को लेकर हर साल 4 फरवरी को ‘विश्व कैंसर दिवस’ मनाया जाता है। आइए आगे की स्लाइडों में उन खराब आदतों के बारे में जानते हैं जिन्हें कैंसर के जोखिम को बढ़ावा देने वाला माना जाता है। इससे तुरंत दूरी बना लेनी चाहिए।

Cancer: an impeding health crisis in developing countries - Humanium

1, ज्यादा तनाव लेना है खतरनाक- नेशनल कैंसर इंस्टीट्यूट के अनुसार वैसे तो तनाव, सीधे तौर पर कैंसर का कारण नहीं बनती है, हालांकि इसके कारण शरीर की प्रतिक्रिया- जैसे कि रक्तचाप और हृदय गति में वृद्धि और ब्लड शुगर का बढ़ना, कैंसर के जोखिमों को बढ़ा सकता है। हाल के वर्षों में, तनाव और कैंसर के बीच संबंधों को लेकर अध्ययन किया गया, जिसमें वैज्ञानिकों ने पाया कि तनाव ग्रस्त लोग धूम्रपान या शराब पीने जैसी कई ऐसी आदतों के शिकार हो जाते हैं, जिससे कैंसर का खतरा बढ़ जाता है।

2, ज्यादा देर बैठे रहने की आदत- साल 2014 में नेशनल कैंसर इंस्टीट्यूट के जर्नल में प्रकाशित समीक्षा में जर्मन वैज्ञानिकों ने पाया कि ज्यादा देर बैठे रहने की आदत भी कैंसर का खतरा बढ़ा सकती है। वैज्ञानिकों ने पाया कि ज्यादा देर बैठे रहने वाले लोगों में पेट के कैंसर, एंडोमेट्रियल कैंसर और फेफड़ों के कैंसर का खतरा बढ़ जाता है। यही कारण है कि लोगों को थोड़ी-थोड़ी देर पर उठकर वॉक करने की सलाह दी जाती है।

3, पर्याप्त मात्रा में पानी न पीना- दिन भर में खूब पानी पीने से आपके शरीर में सब कुछ ठीक से काम करता रहता है। पानी पीना सिर्फ शरीर के हाइड्रेशन के लिए ही नहीं कैंसर के खतरे को कम करने के लिए भी आवश्यक है। क्लीवलैंड क्लिनिक के अनुसार, ज्यादा पानी पीने से पेशाब के माध्यम से हानिकारक पदार्थों बाहर निकल जाते हैं, जिससे मूत्राशय के कैंसर का खतरा कम हो सकता है। इसलिए सभी लोगों को रोजाना 3-4 लीटर पानी जरूर पीना चाहिए।

4, शराब और धूम्रपान- कैंसर के खतरों में शराब और धूम्रपान को स्वास्थ्य विशेषज्ञ सबसे गंभीर मानते हैं। शराब और धूम्रपान की लत के शिकार लोगों में कई तरह के कैंसर के विकास का जोखिम अधिक होता है। अमेरिकन कैंसर सोसाइटी के अनुसार, अधिक शराब पीने से गले, लिवर, कोलन और स्तन कैंसर का खतरा बढ़ जाता है। शराब की एक छोटी सी मात्रा भी आपके दिमाग के लिए नुकसानदायक मानी जाती है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments