Tuesday, April 23, 2024
HomeIndian Newsमुख्तार अंसारी के बेटे का विवादित बयान -पहले होगा हिसाब-किताब

मुख्तार अंसारी के बेटे का विवादित बयान -पहले होगा हिसाब-किताब

नई दिल्ली  बाहुबली विधायक और माफिया मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी मऊ सदर से चुनाव लड़ रहे हैं. समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ रही सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टीने अब्बास अंसारी को अपना प्रत्याशी बनाया है. गुरुवार देर रात एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए अब्बास अंसारी ने राज्य में सपा सरकार बनने पर अधिकारियों को भी सबक सिखाने की बात कहते हुए भड़काऊ भाषण दिया  इसी बीच, मुख्‍तार अंसारी का बेटे अब्‍बास अंसारी का विवादित बयान सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। सभा में मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी ने कहा था कि मैं अखिलेश यादव से बात करके आया हूं. सरकार बनने के बाद वर्तमान सरकार द्वारा तैनात अधिकारियों का तबादला 6 महीनों तक नहीं होगा. मैं पहले इनसे हिसाब-किताब करूंगा. तब इन अधिकारी का तबादला होगा. इस केस में अब्बास के खिलाफ केस दर्ज हो गया है.  इस मामले में अब्बास अंसारी के खिलाफ सदर कोतवाली में आचार संहित के उल्लंघन का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. एसपी सुशील घुले ने बताया कि अब्बास अंसारी के बयान पर संज्ञान लेते हुए कोतवाली में संबंधित धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. जांच के लिए संबंधित रिटर्निंग अधिकारी को भी आदेश दिया गया मऊ पुलिस ने ट्वीट कर कहा, ‘प्रत्याशी अब्बास अंसारी के वायरल विडियों के संबंध में थाना कोतवाली पर आचार संहिता के उलंघन के सम्बन्ध में धारा 171च, 506 भादावि का अभियोग पंजीकृत किया गया है. इस संबंध में निवार्चन अधिकारी 356-मऊ सदर, मऊ को अग्रिम कार्यवाही हतु रिपोर्ट दी गयी है  सभा को संबोधित करते हुए उन्‍होंने कहा कि मेरे गाड़ियों की दिन में 10 बार चेकिंग हो रही है। जबकि दूसरे उम्‍मीदवार के गाड़ियों की चेकिंग नहीं की जा रही है। दबाव बनाने के लिए मेरे गाड़ी का हर दिन चालान किया जा रहा है।

मऊ के पहाड़पुरा के मैदान में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी बहुत ही उग्र भाषण दे रहे थे अब्बास अंसारी ने भड़काऊ और उत्तेजित भाषण देते हुए सीधे तौर पर पुलिस वालों पर निशाना साधा था. उन्होंने धमकीभरे लहजे में चेतावनी देते हुए मंच से कहा था कि अखिलेश यादव की सरकार बनने पर इन अधिकारियों को और पुलिस वालों की 6 महीने तक ट्रांसफर पोस्टिंग नहीं की जाएगी. इनसे हिसाब-किताब लिया जाएगा. उन्होंने वहां मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए मौजूदा सरकार द्वारा की गई कार्रवाई और कथित फर्जी मुकदमों से परेशान अपने समर्थकों को आश्वस्त किया था. उन्होंने कहा, बीजेपी से इसका हिसाब लिया जाएगा.

 

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments