केरल के मलमपुझा पहाड़ों में एक खड़ी खाई में फंसे युवक बाबू को अब बचा लिया गया भारतीय सेना की कई टीमों ने केरल के पलक्कड़ में मलमपुझा पहाड़ों में एक खड़ी खाई में फंसे युवक बाबू के बचाव के लिए एक लंबा अभियान चलाया था। यह युवक वहां पर सोमवार से फंसा हुआ था और बचावकर्मी उस तक भोजन और पानी नहीं पहुंच पा रहे थे. भारतीय सेना ने इस युवक को बचाने के लिये विशेष अभियान चलाया था स्थानीय लोगों के अनुसार युवक ने दो अन्य लोगों के साथ सोमवार को चेराड पहाड़ी की चोटी पर चढ़ने का फैसला किया था, लेकिन दो अन्य बीच में ही उतर गये थे. उन्होंने बताया कि बाबू लगातार ऊपर चढ़ता रहा और वहां पहुंचने के बाद फिसल कर पहाड़ के मुहाने पर चट्टानों के बीच में फंस गया.मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने मामले में हस्तक्षेप करते हुये युवक को बचाने के लिए सेना की मदद मांगी. मुख्यमंत्री कार्यालय (CMO) की एक विज्ञप्ति में कहा गया कि इसके बाद सेना की दक्षिणी कमान के लेफ्टिनेंट जनरल अरुण ने सीएमओ को सूचित किया कि उन्होंने एक विशेष टीम को इस रेस्क्यू ऑपरेशन के लिये बेंगलुरु से रवाना कर दिया है

भारतीय सेना की कई टीमों ने केरल के पलक्कड़ में मलमपुझा पहाड़ों में एक खड़ी खाई में फंसे युवक बाबू के बचाव के लिए एक लंबा अभियान चलाया था केरल के मलमपुझा में सेना के जवानों ने 40 घंटों से भी अधिक समय से घाटी में फंसे 23 साल के युवक को सुरक्षित बाहर निकाल लिया है. फिर क्या था खुशी में युवक ने जवानों को चूम लिया. सेना के जवानों ने बाबू नामक युवक को पहाड़ी से सुरक्षित निकालने से पहले भोजन और पानी मुहैया कराया था. इस ऑपरेशन के लिए मंगलवार को सेना ने अपनी मद्रास रेजीमेंट और पैराशूट रेजीमेंट को उतारा था.भारतीय सेना के मद्रास रेजीमेंट सेंटर, वेलिंगटन से 12 कर्मियों की एक टीम, जिसमें विशेषज्ञ उपकरण के साथ पर्वतीय योग्य कर्मी शामिल हैं, आज सुबह 1:30 बजे सड़क मार्ग से घटनास्थल पर पहुंचे। पैराशूट रेजिमेंट सेंटर, बेंगलुरु से 22 कर्मियों की दूसरी टीम विमान से सुलूर चली गई और आज सुबह 4 बजे तक बचाव स्थान पर पहुंच गई। सेना की संयुक्त टुकड़ी ने सुबह 5.45 बजे से रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया । स्थान की निगरानी के लिए ड्रोन का इस्तेमाल किया गया और सुलूर एयरबेस पर एक हेलीकॉप्टर को भी स्टैंडबाय पर रखा गया था, हालांकि उसकी जरुरत नहीं पड़ी। सेना के अथक प्रयास और घंटों की मेहनत से आखिरकार केरल के पलक्कड़ में मलमपुझा पहाड़ों में एक खड़ी खाई में फंसे युवक बाबू को बचा लिया गया