Sunday, May 19, 2024
HomeIndian Newsकिसान नेता राकेश टिकैत का बयान- किसानों को बजट से बहुत उम्मीद...

किसान नेता राकेश टिकैत का बयान- किसानों को बजट से बहुत उम्मीद थी

नई दिल्ली:संयुक्त किसान मोर्चा ने गुरुवार को बैठक की. इस बैठक के बाद किसान मोर्चा के सदस्यों ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि विधानसभा चुनावों में किसान विरोधी बीजेपी को सजा देना होगा. बीकेयू के नेता राकेश टिकैत  ने कहा, ”बजट से बहुत उम्मीद थी, लेकिन नुक़सान हुआ है. उत्तर प्रदेश में हमारा सभी से ये सवाल रहेगा, जो भी वोट मांगने आएंगे उनसे पूछेंगे कि उन्होंने किसानों के लिए क्या कियायूपी के लखीमपुर खीरी में सोमवार को किसान नेता राकेश टिकैत ने बीजेपी पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि ये सरकार बहुत बेशर्म है। राकेश टिकैत सीतापुर में किसान महापंचायत में शामिल होने जा रहे थे।सीतापुर किसान महापंचायत में शामिल होने जा रहे राकेश टिकैत ने शहर स्थित शेरे पंजाब ढाबे पर पत्रकारों से मुखातिब हुए। उन्होंने प्रदेश की बीजेपी सरकार पर जमकर गुस्सा जहिर किया। टिकैत ने लाखीमपुर खीरी में भुगतान को लेकर धरने पर बैठे सिखों के बाल मुड़वाने के मामले पर बोले- ये सरकार बेशर्म है।

आंदोलन करने और बाल मुड़वाने से सरकार पैसे नहीं देगी। लाठी उठाने से पैसे मिलेंगे यह सरकार बहुत बेशर्म है। इसके सामने मुकाबला करना पड़ेगा। हम किसान नहीं, लेकिन जिनका पैसा बकाया है, वह तो किसान हैं। आज जो किसान पंचायत में जाना चाह रहे थे, उनके घर पुलिस बैठा दी गई। पूरे देश में आंदोलन चलेंगे। इनकी काली करतूत जनता के सामने लाएंगे। यह बेरोजगार, किसान और मजदूर का आंदोलन है।

भारतीय किसान यूनियन के नेता ने कहा, ”एक पर्चा देंगे वोटर्स को जिसमें कई सारे सवाल होंगे, सभी वोट मांगने वालों से उसमें हां या ना में जवाब लेंगे. उत्तराखंड में भी ये पर्चा लोगों को बांटेंगे जिसमें हमारे सवाल है. इसका जवाब वोट मांगने आये सभी से लेंगे. इन जवाबों के आधार पर वोटर खुद तय करेगा कि किसको वोट देना है?” राकेश टिकैत ने ट्विटर पर एक बयान भी जारी किया है. इसका शीर्षक है, ‘इस चुनाव में किसान विरोधी बीजेपी को सजा दें शिव कुमार कक्का ने कहा कि MSP क़ानून को लेकर जो क़ानून बनाने की बात कही थी वो अभी तक नहीं बन पायी. जो मामले किसानों के ख़िलाफ़ दर्ज किये गये थे वो अभी तक ख़त्म नहीं किये गये है, बिजली बिल को लेकर भी जो वादा किया था उसको लेकर भी कोई काम नहीं किया सरकार ने. इसलिये विश्वासघात दिवस मनाया था हमने.हनन मोल्ला ने कहा कि SKM वोटर को पर्चा देंगे. छोटी-छोटी मीटिंग होगी हर स्तर पर. बीजेपी को सजा देंगे. उत्तर प्रदेश में जगह-जगह वोटर्स के पास ज़ायेंगे. वहीं दर्शन पाल ने कहा कि उत्तर प्रदेश मिशन हमने लखीमपुर खीरी घटना के बाद शुरू किया था. अभी भी मोर्चा के मुद्दे पेंडिंग है, इसलिये मिशन उत्तर प्रदेश अभी जारी रहेगा. लखीमपुर मामले में अजय मिश्रा टेनी को बर्खास्त नहीं किया गया है अब तक. इसकी वजह से बीजेपी का ग्राफ़ काफ़ी नीचे आया है. बीजेपी को इसका ख़ामियाज़ा भुगतना होगा.

 

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments