Friday, June 21, 2024
HomeIndian Newsक्या अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद का गैंग फिर से हो रहा है सक्रिय...

क्या अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद का गैंग फिर से हो रहा है सक्रिय ?

अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद का गैंग फिर से सक्रिय हो रहा है! देश में अलग तरह से आतंक फैला रहे गैंगस्टर की लिस्ट एनआईए ने जारी कर दी है। एनआईए जल्द से जल्द इन गैंगस्टर्स से जुड़ी सारी जानकारी हासिल करना चाहती है। इनमें से ज्यादातर गैंगस्टर्स पंजाब के है। एनआईए का इनकी प्रॉपर्टी को भी सीज करने का प्लान हैं। इनमें से कुछ गैंग्सटर्स ऐसे हैं जो दाऊद के साथ मिलकर फैला रहे हैं आतंक। डी कंपनी के साथ मिलकर ये हथियारों की सप्लाई करवाते हैं, ड्रग्स को युवाओं तक पहुंचाते हैं। पंजाब के फाजिल्का का रहने वाला लॉरेंस बिश्नोई फिलहाल देश का सबसे बड़ा गैंगस्टर्स है। कुछ ही सालों में लॉरेंस ने देश में सबसे बड़ा नेटवर्क तैयार कर लिया है। सोशल साइट्स के जरिए ये अपने नेटवर्क को बढ़ाता है। कुछ समय पहले खबर सामने आई थी कि दाऊद इब्राहिम लॉरेंस के जरिए देश में अपना नेटवर्क फिर से खड़ा करना चाहता है। दाऊद का नेटवर्क कुछ सालों में देश से पूरी तरह से उखाड़ दिया गया है और ऐसे में लॉरेंस की मदद उसे फिर से देश में एक्टिव कर सकती है। कुछ समय पहले लॉरेंस के कजिन अनमोल बिश्नोई की डी कंपनी के कुछ लोगों से मुलाकात हुई थी।दाऊद इब्राहिम लॉरेंस के जरिए देश में अपना नेटवर्क फिर से खड़ा करना चाहता है। दाऊद का नेटवर्क कुछ सालों में देश से पूरी तरह से उखाड़ दिया गया है और ऐसे में लॉरेंस की मदद उसे फिर से देश में एक्टिव कर सकती है।

एक और बड़ा गैंगस्टर्स है जिसके संबंध आईएसआई और दाऊद से सामने आए हैं और ये नाम है लखबीर सिंह लांडा। लांडा पंजाब के तरनतारन का रहने वाला है और काफी समय से देश से फरार होकर कनाडा में रह रहा है। कनाडा में ही उसकी मुलाकात आईएसआई के लोगों से हुई। लांडा खालिस्तान से जुड़ा हुआ है। मोहाली में पुलिस हेडक्वार्टर में हुए बम ब्लास्ट को भी इसने ही अंजाम दिया था। इस गैंगस्टर का कनेक्शन भी दाऊद इब्राहिम से सामने आया था।

गोल्डी बराड़ भी एनआई की हिट लिस्ट में शामिल है और कनाडा में रहकर देश में आतंक फैला रहा है। बताया जाता है कि इसके कनाडा में डी कंपनी के लोगों से सीधे संबंध हैं और पाकिस्तान के रास्ते हथियार सप्लाई का काम गोल्डी बराड़ ही बिश्नोई गैंग के लिए करता है। गोल्डी बराड़ को लॉरेंस बिश्नोई के बाद इस गैंग का दूसरा बड़ा गैंगस्टर माना जाता है। अर्शदीप गिल उर्फ अर्श डल्ला खालिस्तानी आतंकी है जिसका मकसद है देश के युवाओं को बरगलाकर आतंक फैलना। आपको बता दें कि ये हथियारों की सप्लाई करवाते हैं, ड्रग्स को युवाओं तक पहुंचाते हैं। पंजाब के फाजिल्का का रहने वाला लॉरेंस बिश्नोई फिलहाल देश का सबसे बड़ा गैंगस्टर्स है। कुछ ही सालों में लॉरेंस ने देश में सबसे बड़ा नेटवर्क तैयार कर लिया है। सोशल साइट्स के जरिए ये अपने नेटवर्क को बढ़ाता है। कुछ समय पहले खबर सामने आई थी कि दाऊद इब्राहिम लॉरेंस के जरिए देश में अपना नेटवर्क फिर से खड़ा करना चाहता है।कुछ ही सालों में लॉरेंस ने देश में सबसे बड़ा नेटवर्क तैयार कर लिया है। सोशल साइट्स के जरिए ये अपने नेटवर्क को बढ़ाता है। कुछ समय पहले खबर सामने आई थी कि दाऊद इब्राहिम लॉरेंस के जरिए देश में अपना नेटवर्क फिर से खड़ा करना चाहता है। दाऊद का नेटवर्क कुछ सालों में देश से पूरी तरह से उखाड़ दिया गया है और ऐसे में लॉरेंस की मदद उसे फिर से देश में एक्टिव कर सकती है।

कुछ समय पहले लॉरेंस के कजिन अनमोल बिश्नोई की डी कंपनी के कुछ लोगों से मुलाकात हुई थी। खालिस्तानी आतंकी अमृतपाल की मदद भी फिलिपिंस में बैठा अर्श डल्ला ही कर रहा था। अर्श डल्ला के संबंध भी डी कंपनी से है।लांडा पंजाब के तरनतारन का रहने वाला है और काफी समय से देश से फरार होकर कनाडा में रह रहा है। कनाडा में ही उसकी मुलाकात आईएसआई के लोगों से हुई। लांडा खालिस्तान से जुड़ा हुआ है। मोहाली में पुलिस हेडक्वार्टर में हुए बम ब्लास्ट को भी इसने ही अंजाम दिया था। इस गैंगस्टर का कनेक्शन भी दाऊद इब्राहिम से सामने आया था। खालिस्तानी आंतकियों को डी कंपनी की तरफ से पैसा और हथियार दिए जाते हैं ताकि वो देश में दहशत पैदा कर सकें। खालिस्तानी मुहिम को चलाने में अर्श डल्ला लंबे समय से अहम रोल निभा रहा है।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments