नई दिल्ली  : यूक्रेन में रूस के हमले के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज शाम रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से बात की है। राष्ट्रपति पुतिन ने यूक्रेन के संबंध में हाल के  घटनाक्रम के बारे में प्रधानमंत्री मोदी को जानकारी दी। पीएम मोदी ने रूस-यूक्रेन के बीच ‘हिंसा को तत्काल बंद करने’ की अपील की है। यूक्रेन में गुरुवार सुबह रूस ने बमबारी शुरू की थी. वहां के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने बताया कि पहले दिन हमलों में सैनिकों और आम नागरिकों को मिलाकर 137 लोगों की जान गई है. उन्होंने कहा कि वह खुद “दुश्मनों का पहला निशाना हैंयूक्रेन में गुरुवार सुबह रूस ने बमबारी शुरू की थी. वहां के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने बताया कि पहले दिन हमलों में सैनिकों और आम नागरिकों को मिलाकर 137 लोगों की जान गई है. उन्होंने कहा कि वह खुद “दुश्मनों का पहला निशाना हैं रूसी राष्ट्रपति भवन से जारी बयान के मुताबिक पुतिन ने पीएम मोदी को बताया कि डोनबास के आम नागरिकों पर कीव से चलने वाली सरकार ने आक्रामक कार्रवाई की. मिंस्क समझौते का उल्लंघन भी किया गया और इसके अलावा यूक्रेन में अमेरिका और नाटो की मदद से सामरिक तौर पर जो गतिविधियां चल रही थीं. इन सबकी वजह से ही रूस को सैन्य कार्रवाई का फैसला लेना पड़ा

भारतीय प्रधानमंत्री ने रूस के राष्ट्रपति के सामने यूक्रेन में फंसे भारतीयों के प्रति चिंता भी व्यक्त की. उन्होंने कहा कि अपने नागरिकों की सुरक्षित स्वदेश वापसी भारत की सर्वोच्च प्राथमिकता है. भारतीय अधिकारियों के मुताबिक यूक्रेन में कम से कम 15,000 छात्र फंसे हुए हैं.  करीब 25 मिनट की इस बातचीत में पीएम मोदी ने भारत की कई चिंताओं से पुतिन को अवगत कराया। साथ ही अपने भरोसे को दोहराया कि रूस और नाटो समूह के बीच मतभेदों को केवल बातचीत संग सुलझाया जा सकता है। यूक्रेन पर हमले के बाद दुनिया के तमाम देश रूस पर हमलावर हैं

रूसी पक्ष द्वारा मोदी-पुतिन वार्ता के बारे में जारी किए गए एक बयान में कहा गया कि मोदी ने वर्तमान में यूक्रेन में भारतीय नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने में सहायता मांगी, जिस पर राष्ट्रपति पुतिन ने कहा कि ‘आवश्यक निर्देश’ दिए जाएंगे. पीएमओ ने कहा कि नेताओं ने सहमति व्यक्त की कि उनके अधिकारी और राजनयिक दल सामयिक हितों के मुद्दों पर नियमित संपर्क बनाए रखेंगेभारतीय विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला ने जानकारी देते हुए बताया था कि यूक्रेन पर रूसी हमले के बीच प्रधानमंत्री मोदी कुछ ही देर में रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से बात करेंगे. विदेश सचिव ने कहा की स्थिति की समीक्षा के लिए पीएम मोदी की अध्यक्षता में सुरक्षा मामलों की कैबिनेट कमेटी की एक बैठक हुई. प्रधानमंत्री ने सीसीएस बैठक में स्पष्ट तौर पर कहा है कि सरकार की प्राथमिकता यूक्रेन में भारतीय नागरिकों की सुरक्षा और उनको भारत वापस लाना है. साथ ही कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने विशेष रूप से कहा है कि विदेश मंत्रालय यूक्रेन में हमारे नागरिकों की मदद के लिए हर संभव प्रयास करे. .