sonu-sood

नई दिल्ली। रूस और यूक्रेन के बीच जंग चरम पर हैं। इस दोनों देशों को लेकर दुनिया बंटी हुई भी नजर आ रही हैं। वहीं दूसरी ओर भारत यूक्रेन में पढ़ रहे भारतीय छात्रों को वहां से निकलने में हर संभव कोशिश कर रहा है। अब यूक्रेन में फंसे छात्रों के लिए बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद ने भी हाथ बढ़ा दिया है। सोनू सूद कोरोना काल में परेशान, गरीब और जरूरतमंद लोगों की मदद करते रहे हैं।

jagran

उन्हें बहुत से लोग अपना मसीहा भी मानते हैं। ऐसे में सोनू सूद यूक्रेन की सीमा में फंसे छात्रों के लिए महीसा बने हैं। इस बात की जानकारी खुद अभिनेता ने दी है। उन्होंने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर दो ट्वीट किए जिससे साफ जाहिर होता है कि सोनू सूद ने यूक्रेन में फंसे छात्रों की कैसे मदद की है। एक शख्स ने सोनू सूद की मदद से भारत आए छात्रों का वीडियो ट्विटर पर शेयर किया है।

शख्स के ट्वीट पर प्रतिक्रिया देरे हुए अभिनेता ने लिखा, ‘यह मेरी जॉब है, मुझे खुशी है कि मैं इसको करने के काबिल था। भारत सरकार का बहुत धन्यवाद और सपोर्ट, जय हिंद।’ वहीं अपने दूसरे ट्वीट में सोनू सूद ने लिखा, ‘यूक्रेन में हमारे छात्रों के लिए मुश्किल वक्त और शायद अब तक का मेरा सबसे मुश्किल काम। सौभाग्य से हम कई छात्रों को सीमा पार करके सुरक्षित क्षेत्र में जाने में मदद करने में सफल रहे। आइए कोशिश करते रहें। उन्हें हमारी जरूरत है। आपकी सहायता के लिए, धन्यवाद।’

अपने इस ट्वीट में सोनू सूद ने रोमानिया, पोलेंड के दूतावास को टैग किया है। सोशल मीडिया पर सोनू सूद का यह ट्वीट तेजी से वायरल हो रहा है। अभिनेता के फैंस उनके ट्वीट को खूब पसंद कर रहे हैं। साथ ही कमेंट कर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। आपको बता दें कि रूस और यूक्रेन के युद्ध की तो रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध का आज आठवां दिन है।

युद्ध के बीच एक बार फिर रूस और यूक्रेन बातचीत करेगा। दोनों देशों के बीच गुरुवार को पोलैंड-बेलारूस बार्डर पर वार्ता होगी। वहीं, इस बीच यूक्रेन में फंसे भारतीय नागरिकों को निकालने के लिए भारतीय वायु सेना ने भी अभियान तेज कर दिया है। गुरुवार को पोलैंड से भारतीय वायु सेना का तीसरा C-17 विमान हिंडन एयरपोर्ट पहुंचा।

केंद्रीय राज्य मंत्री अजय भट्ट ने भारतीय नागरिकों का स्वागत किया। इस बीच मास्को ने कहा है कि यूक्रेन में उसके 498 सैनिक मारे जा चुके हैं। हालांकि, संयुक्त राष्ट्र द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार अब तक यूक्रेन में 227 मौतें हो चुकी हैं वहीं 525 लोग जख्मी हुए हैं। यूक्रेन में फंसे छात्रों को लेकर भारतीय वायुसेना का चौथा विमान बुखारेस्ट से हिंडन एयरपोर्ट पहुंचा। एयरपोर्ट पर केंद्रीय राज्य मंत्री अजय भट्ट ने छात्रों का स्वागत किया।