भारत में 5G नेटवर्क शुरू होने जा रहा है. भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नई दिल्ली में इंडिया मोबाइल कांग्रेस (IMC) के छठे संस्करण का उद्घाटन किया और बताया कि भारत के 13 शहरों में 5G नेटवर्क शुरू होने जा रहा है. की शहरो में तो अब 5G का सिग्नल भी दिखाई देने लगा है. लोग 5G को लेकर बहुत ही ज्यादा उत्सुक हैं. लोग जानना चाहते हैं कि 5G आने के बाद हमारे जीवन में कौन-कौन से परिवर्तन आयेंगे. आइए एक-एक करके 5G के सारे गुणों को समझने का प्रयास करते हैं.

क्या है 5G नेटवर्क

यहाँ G का अर्थ है जेनेरेशन. यानि पांचवी जेनेरेशन, हो सकता है कि अब हम ऐसी चीजों का अनुभव कर सकेंगे जो भविष्य में होने वाला है. 5G में नेटवर्क बहुत ही तेज चलेंगे. पहले जिन फिल्मों और वेब सीरीज को डाउनलोड करने में घंटो लग जाते थे अब कुछ ही मिनट में डाउनलोड हो जायेगा. लाइव टीवी या लाइव मैच आपको एकदम क्लीयर और बिना रुके देखने को मिलेगा. बताया जा रहा है कि इस पर आपको 1GBps की स्पीड मिलेगी. इस स्पीड पर आप किसी HD क्वालिटी की मूवी को महज 6 सेकेंड में डाउनलोड कर सकेंगे. एक रिपोर्ट ने यह भी दावा किया है कि तेज स्पीड से आपका समय खूब बचेगा. जैसे पहल आप एक साइट्स को खोलने के लिए 5 मिनट का समय लगाते थे अब वह महज कुछ ही सकेंड में खूल जायेगा.

4G और 5G में अंतर क्या होगा

जैसा कि पहले भी बताया गया है कि 4G के मुकाबले 5G में ज्यादा तकनीकी सुविधा और तेज स्पीड का इंटरनेट मिलेगा. 4G में इंटरनेट की डाउनलोड स्पीड 150 मेगाबाइट्स प्रति सेकंड है 5G में इंटरनेट की डाउनलोड स्पीड 10GB प्रति सेकंड हो सकती है. 4G नेटवर्क में अपलोड स्पीड 50mbps है. जबकि, 5G में 1जीबी प्रति सेकंड होगी. अगर हम बात करे डेटा प्लान की तो अमेरिका में 4G के अनलिमिटेड सेवाओं के लिए जहां 68 डॉलर यानी कि भारत में पांच हजार रुपये तक खर्च करने पड़ते थे, वहीं 5G की बात करें तो ये अंतर बढ़कर 89 डॉलर यानि की भारत में करीब 6500 रुपये तक पहुंच चुका है. इसी हिसाब से हम यह समझ सकते हैं कि भारत में 4G नेटवर्क के हिसाब में 5G बहुत मंहगा होने वाला है. रिपोर्ट्स के मुताबिक भारत में 5जी सेवाओं को सबसे पहले 13 शहरों में शुरू किया जाएगा. हालांकि, पूरे देश में साल 2023 के मार्च तक पहुंचा दिया जाएगा. रिलायंस शुरुआत में दिल्ली, मुंबई, चेन्नई और कोलकाता जैसे महानगरों में दिवाली तक 5G सेवा शुरू करेगा. वहीं, एयरटेल 8 शहरों में अपनी 5जी सेवाएं सबसे पहले देगी.

5G नेटवर्क को लेकर हैं बहुत सारे सवाल

नया नेटवर्क आया है तो जाहिर सी बात है कि लोगों के मन में बहुत उत्सुकता के साथ-साथ बहुत सारे सवाल भी आ रहे हैं. सबसे बड़ा सवाल तो यही है कि क्या 5G नेटवर्क का फायदा 4G मोबाइल फोन में भी देखने को मिलेगा? तो इसका जवाब है कि अगर आप 5जी का अनुभव लेना चाहते हैं तो आपको एक 5जी मोबाइल फोन/डिवाइस लेना होगा.

एक और सवाल लोगों के मन में यह आ रहा है कि क्या अभी जो फोन 4G नेटवर्क वाले हैं उन्हें 5G में अपग्रेड किया जा सकता है? एक्सपर्ट इसका जवाब दे रहे हैं कि नही ऐसा नही हो सकता मौजूदा 4G फोन को 5जी में अपग्रेड नहीं किया जा सकता. 5जी सर्विस के लिए 5जी नेटवर्क पर काम करने वाला मोबाइल ही खरीदना होगा.

जो लोग 5G नेटवर्क के मोबाइल खरीदना चाहते है और तेज इंटरनेट का मजा लेना चाहते हैं वह यही जानना चाहते हैं कि क्या 5G नेटवर्क के मोबाइल बाजार में उपलब्ध हैं अथवा नही. बताया जा रहा है कि अभी के वक्त में भारत में सिर्फ 5 करोड़ ही 5G नेटवर्क के मोबाइल उपलब्ध हैं लेकिन यह संख्या आने वाले वक्त में तेजी से बढ़ेगी.

ऐसे बहुत से लोग हैं जो 4G नेटवर्क से बहुत खुश हैं और उनकी डाटा की खपत ज्यादा नही है. ऐसे लोगों को जबरदस्ती दिखावा करने के लिए 5G नही अपनाना चाहिए. 5G उन्हीं के लिए हैं जो स्पीड को महत्व देते हैं, जिनकी डाटा की खपत ज्यादा है. 5G नेटवर्क घरेलू उपभोक्ता हाई स्पीड इंटरनेट प्राप्त कर सकते हैं. कृषि, स्वास्थ्य देखभाल, शिक्षा आदि जैसे क्षेत्रों को 5जी से जबरदस्त फायदा मिल सकता है.

5G के पास चुनौती भी हैं

बहुत से लोग अभी 4G से खुश हैं और वह अभी उसी को एन्जॉय करना चाहते हैं तो ऐसे मेें 5G का बाजार
इतना जल्दी नही बढेंगा. दूसरे 5G नेटवर्क बहुत ही मंहगा है तो आम आदमी इसे ऐफोर्ड नही कर सकता और जब तक यह नेटवर्क आम आदमी के बीच सफल नही होगा तब तक यह पूर्णत: सफल नही माना जायेगा. लोगों के मन में कई तरह के सवाल हैं जो अभी एक्सपर्ट नही दे सकते हैं. तो ऐसे भी 5G नेटवर्क के पास चुनौती भी भरपूर है, देखते हैं 5G नेटवर्क कितना कामयाब हो पाता हैं.