Friday, May 24, 2024
HomeHealth & Fitnessकॉफी पीने के क्या होते है फायदे, जानने के लिए पढ़े हमारी...

कॉफी पीने के क्या होते है फायदे, जानने के लिए पढ़े हमारी ये खास खबर

नई दिल्ली। हर चीज के अपने फायदे और नुकसान होते है जो कि कभी कभी तो हमको पता होते है और कभी कभी हम इनसे अंजान होते है। ऐसे में आज हम बात कर रहे है Coffee को लेकर। Coffee के क्या फायदे होते है और ये आपको कैसे लाभ देती है।

Black Coffee पीना सबसे बेहतर, चंद दिनों में हो जाएंगे बिल्‍कुल फिट...

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक Coffee में कैफीन नामक मुख्य घटक पाया जाता है जिसकी शरीर में अधिकता गंभीर समस्याओं का कारण बन सकती है। हालांकि अगर इसका सही मात्रा में सेवन किया जाए तो काफी फायदेमंद भी हो सकती है। इतना ही नहीं कॉफी कई तरह की बीमारियों के जोखिम को कम करने में भी फायदेमंद मानी जाती है।

खाली पेट कॉफी का सेवन दिल के लिए हो सकता है घातक, पढ़ें - drinking coffee with empty stomach can cause many diseases

1- ब्लड प्रेशर के लिए कॉफी का असर (Effect’s of coffee on blood pressure)
साल 2017 के मेटा-विश्लेषण में पाया गया कि कैफीन के सेवन से रक्तचाप सहित हृदय स्वास्थ्य में लाभ मिलता है। वहीं 2018 के एक अध्ययन में शोधकर्ताओं ने पाया कि प्रतिदिन तीन से पांच कप कॉफी पीने से हृदय रोग का खतरा 15 फीसदी तक कम हो सकता है।

2- पोषक तत्वों से भरपूर है कॉफी (Coffee is full of nutrients)
अध्ययनों से पता चलता है कि कॉफी में कई उपयोगी पोषक तत्व जैसे राइबोफ्लेविन (विटामिन बी 2), नियासिन (विटामिन बी 3), मैग्नीशियम, पोटेशियम, विभिन्न फेनोलिक यौगिक और एंटीऑक्सिडेंट होते हैं। विशेषज्ञों का सुझाव है कि कॉफी में मौजूद ये पोषक तत्व मानव शरीर को विभिन्न तरीकों से लाभ पहुंचा सकते हैं।

3- लिवर कैंसर में कॉफी का फायदा (Benefits of coffee in liver cancer)
साल 2019 में अध्ययनों के निष्कर्ष में वैज्ञानिकों ने पाया कि कॉफी के सेवन से लिवर कैंसर के खतरे को कम किया जा सकता है। इससे पहले साल 2015 में संयुक्त राज्य अमेरिका में हुए एक अध्ययन में शोधकर्ताओं ने पाया था कि प्रतिदिन दो से तीन कप कॉफी का सेवन करने से प्रतिभागियों में हेपेटोसेलुलर कार्सिनोमा और क्रोनिक लीवर रोग विकसित होने का जोखिम 38% तक कम हो गया है।

4- मधुमेह रोगियों के लिए कॉफी के फायदे (Benefits of coffee for diabetics)
कॉफी का सेवन करने वालों में टाइप-2 मधुमेह का खतरा कम होता है। साल 2014 में 48,000 से अधिक लोगों के डेटा अध्ययन में शोधकर्ताओं ने पाया कि जिन लोगों ने 4 वर्षों में प्रति दिन कम से कम एक कप कॉफी पी थी, उनमें टाइप-2 मधुमेह का जोखिम 11 फीसदी तक कम हो सकता है। हालांकि डायबिटीज रोगियों को डॉक्टर के सलाह पर ही इसका सेवन करना चाहिए।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments