Tuesday, April 23, 2024
HomeIndian Newsयूक्रेन में घायल हुए भारतीय छात्र हरजोत सिंह को आज भारत वापस...

यूक्रेन में घायल हुए भारतीय छात्र हरजोत सिंह को आज भारत वापस लाया गया

नई दिल्ली. केंद्र सरकार द्वारा यूक्रेन में घायल छात्र हरजोत सिंह  को सोमवार शाम करीब 6 बजे तक भारत लाया जा रहा है . सेना के वरिष्ठ सूत्रों के मुताबिक भारतीय एयरफोर्स के विमान C-17 विमान द्वारा गाजियाबाद स्थित हिंडन एयरबेस पर हरजोत सिंह को लाने के बाद उसे वहां से विशेष एम्बुलेंस वाहन से धौलाकुआं स्थित आर्मी आर. आर. अस्पताल में उसे भर्ती करवाया जाएगा. हरजोत के बेहतर इलाज के लिए वरिष्ठ डॉक्टरों की टीम नियुक्त कर दी गई है. भारत सरकार द्वारा हरजोत का इलाज करवाया जाएगा, यानी उसके इलाज पर होने वाले लाखों रुपये का खर्च केंद्र सरकार उठाने वाली है. कीव में हरजोत सिंह गोली लग गयी थी वहां उनको भी भारत वापस लाया जा रहा हैं. हरजोत सिंह से मिलने के बाद वी.के. सिंह ने कू पर पोस्ट किया कि, “मैं देश को आश्वस्त करता हूं कि वह सुरक्षित हाथों में है. उसका बुरा पीछे छूट चुका है, मैं उसे अपने परिवार के साथ फिर से देखने के लिए उत्सुक हूं. आशा है कि वह तेजी से स्वस्थ होगा.अब तक केंद्र सरकार 11,000 भारतीयों की सुरक्षित वापसी करा चुकी है. एयर एशिया की उड़ान से दिल्ली पहुंचने वाले 170 नागरिकों का स्वागत करने पहुंचे विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन  ने यह जानकारी दी है. मुरलीधरन ने अपने ट्विटर अकाउंट पर इसको लेकर एक ट्वीट किया है. इसमें उन्‍होंने ल‍िखा, ‘यूक्रेन से अब तक 11,000 भारतीयों को निकाला गया है

बता दें कि हरजोत सिंह को दिल्ली के रहने वाले हैं. वह आईटी स्पेशलिस्ट हैं और यूक्रेन में हायर एजुकेशन के लिए गए थे. 27 फरवरी को वह यूक्रेन की राजधानी कीव से दोस्तों संग बाहर निकलने की कोशिश कर रहे थे. इस दौरान उन्हें 4 गोली लगी थी. गोली छाती और पैर में लगी थी, जिससे वह घायल रहो गए थे. यही नहीं वहां मची भगदड़ में उनका पासपोर्ट भी गुम हो गया था. हरजोत सिंह के 4 गोलियां लगी है जिसके कारण उनका इलाज जारी है। उन्हें एम्बुलेंस के जरिए पोलैंड के एयरपोर्ट ले कर आया गया था। यहां से वह भारतीय वायु सेना के विमान से स्वदेश लौट रहे हैं। जानकारी के अनुसार, 1 मार्च से अबतक 14 विमानो से लगभग 3000 विद्यार्थियों को पोलैंड से वतन वापस लाया गया है।दरअसल यूक्रेन से निकलने की कोशिश के दौरान हरजोत सिंह के गोलीबारी में घायल हुए थे, जिसके बाद वह 4 दिन तक बेहोश रहे और फिर डॉक्टरों से फोन मांग घर पर सूचित किया था। इसके बाद जब लगातार हरजोत को वापस बुलाए जाने की मांग उठने लगी थी।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments